झूठ बोलकर जनता को गुमराह कर रही गोदी मीडिया ,लद्दाख में चीनी सैनिकों से हुई झड़प में 76 जवान हुए थे हमले के शिकार - तहक़ीकात समाचार

ब्रेकिंग न्यूज़

Post Top Ad

Responsive Ads Here

शुक्रवार, 19 जून 2020

झूठ बोलकर जनता को गुमराह कर रही गोदी मीडिया ,लद्दाख में चीनी सैनिकों से हुई झड़प में 76 जवान हुए थे हमले के शिकार

लद्दाख के गलवान घाटी में चीनी सैनिकों के साथ हुई हिंसक झड़प में भारतीय सेना का कोई भी जवान अब गंभीर रूप से घायल नहीं है और सबकी हालत स्थिर है. सेना के अधिकारियों ने यह जानकारी दी है. उन्होंने बताया, 'हमारे सभी जवानों की हालत ठीक है और कोई भी सैनिक गंभीर नहीं है. लेह के अस्पताल में हमारे 18 जवान हैं और वह 15 दिन के भीतर ही ड्यूटी ज्वाइन कर लेंगे. इसके अलावा 56 जवान दूसरे अस्पतालों में हैं, जो मामूली तौर पर घायल हैं और वह एक हफ्ते भर के भीतर ही ड्यूटी पर लौट आएंगे.


इसके साथ-साथ सेना ने यह भी बताया कि कोई भी जवान चीन के कब्जे में नहीं है. बता दें कि सोमवार रात गलवान घाटी में चीन की सेना के साथ हुई हिंसक झड़प में एक कर्नल समेत 20 सैनिकों की जान चली गई थी. इससे पहले सेना के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया था कि कोई भी भारतीय सैनिक चीनी सेना की हिरासत में नहीं है. सेना सूत्रों ने यह भी बताया कि सैकड़ों सैनिकों के बीच कई घंटे तक चले संघर्ष में चीन के 45 सैनिक या तो मारे गए या गंभीर रूप से घायल हुए हैं. 

सेना के अधिकारियों से मिली जानकारी के बाद भारतीय मीडिया के ऊपर भी सवाल पैदा होता है कि आखिर सच को वह क्यों नही बताता है,  क्या मीडिया के दलाल पत्रकार केवल पाकिस्तान में 300 आतंकियों के मारे जाने की स्टिंग ऑपरेशन कर पाते हैं या कभी सच दिखाने की हिम्मत भी कर पाएंगे।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

tahkikatsamachar

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages