बस्ती - दिसंबर के महीने में भी परिषदीय स्कूल के बच्चों को नही मिल पाया स्वेटर - तहक़ीकात समाचार

ब्रेकिंग न्यूज़

Post Top Ad

Responsive Ads Here

गुरुवार, 5 दिसंबर 2019

बस्ती - दिसंबर के महीने में भी परिषदीय स्कूल के बच्चों को नही मिल पाया स्वेटर

विश्वपति वर्मा-

भारी भरकम कमीशन की चाहत में डूबा शिक्षा विभाग इतना भ्रष्ट हो जाएगा यह अंदाजा किसी को नही है ।यूपी के प्राथमिक स्कूलों में सरकार के आदेश के बाद अक्टूबर में बंटने वाले स्वेटर 5 दिसम्बर तक भी नही बंट पाए । कई जिलों मिली सूचनाओं में पता चला है कि यूपी के 70 फीसदी स्कूल तक एक भी स्वेटर नही पंहुच पाया है जिसका परिणाम है कि सर्द मौसम में बच्चों को ठिठुरना पड़ रहा है।

तहकीकात समाचार ने आज जनपद के सल्टौआ गोपालपुर ,गौर और साऊघाट ब्लॉक के विद्यालय में पढ़ने वाले बच्चों से बात किया तो पता चला कि अभी इन नौनिहालों को सरकार की महत्वाकांक्षी योजना का लाभ नही मिल पाया है इसके अलावां पूरे बस्ती जनपद का यही हाल है जंहा बच्चे स्वेटर से वंचित हैं।

इतना ही नही प्रदेश के विद्यालयों में पढ़ने वाले 1.60 करोड़ बच्चों को अभी तक स्वेटर नहीं मिला पाया है.

इस संबंध में तहकीकात समाचार ने उत्तर प्रदेश के बेसिक शिक्षा मंत्री सतीश द्विवेदी से फोन पर बात किया तो उन्होंने दावा करते हुए कहा कि हमने सभी आपूर्तिकर्ताओं को सख्त निर्देश दिया था कि 30 नवंबर तक प्रदेश के सभी जनपद में स्वेटर पहुंच जाएं.लेकिन उसके बाद भी आपूर्तिकर्ताओं द्वारा विलंब किया गया है ,उन्होंने कहा कि  10 दिसंबर तक स्वेटर नही वितरित किया गया तो आपूर्तिकर्ता खिलाफ सख्त कार्रवाई की जाएगी.


वंही सूत्रों से मिली जानकारी पर गौर करें तो पता चल रहा है कि यह सब लेट लतीफा कमीशनखोरी के चलते हो रहा है ,जिसमे कमीशन की मोटी कमाई के लालच में मानक के विपरीत बने स्वेटर बांटने के लिए फर्मों को अधिकृत किया जा रहा है। हमारे मीडिया प्रतिनिधि ने बताया कि स्कूल ड्रेस  और स्वेटर दोनों को बांटने में जो लेट होता है वह केवल कमीशनखोरी की वजह से होता है जिसपर सरकार का कोई नियंत्रण नही है।


कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

tahkikatsamachar

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages