आखिर रातों रात कैसे स्थापित हुई बाबा साहब की मूर्ति - तहक़ीकात समाचार

ब्रेकिंग न्यूज़

Post Top Ad

Responsive Ads Here

शनिवार, 15 दिसंबर 2018

आखिर रातों रात कैसे स्थापित हुई बाबा साहब की मूर्ति

कर्नाटक की राजधानी बेंगलुरु के सिटी मार्केट में सुबह-सुबह अचानक लोगों को बाबा साहब भीम राव अंबेडकर की मूर्ति दिखी. ये रहस्य बरकरार है कि छह फुट का प्लेटफॉर्म बना कर किसने और कैसे ये मूर्ति लगाई है. इस बात की जांच की जा रही है. लेकिन यह घटना अब चर्चा का मुद्दा बन गई है हर किसी को हैरत है कि  रातोरात 6 फीट का प्लेटफॉर्म बनाकर मूर्ति कैसे स्थापित कर दी गई. पार्किंग के ठेकेदार चंद्रू ने बताया, शाम में यहां कुछ भी नहीं था लेकिन जब सुबह आया तो यहां पर मूर्ति लगी हुई थी.


आपको बता दें कि सिटी मार्केट बेंगलुरु का ऐसा इलाका है जहां दिन का शोर थमते ही रात में फूलों का बज़ार सजने लगता है और पुलिस स्टेशन यहां से महज़ 50 मीटर की दूरी पर है. वहीं कर्नाटक सरकार के 11 जून 2012 के सरकारी आदेश में साफ कहा गया कि सरकारी जमीन पर कब्ज़ा करके लोकनायकों की मूर्तियों की  स्थापना और धार्मिक स्थलों के निर्माण पर पूरी तरह रोक लगाई जाती है. स्थानीय पार्षद प्रेमलता ने कहा, 'हमे पता ही नहीं था जैसे ही पता चला हमने पुलिस में शिकायत दर्ज करवा दी है'.

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

tahkikatsamachar

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages