शराब से खत्म होगा कोरोना वायरस? पढ़ें और जानें क्या है इसकी सच्चाई - तहक़ीकात समाचार

ब्रेकिंग न्यूज़

Post Top Ad

Responsive Ads Here

शुक्रवार, 6 मार्च 2020

शराब से खत्म होगा कोरोना वायरस? पढ़ें और जानें क्या है इसकी सच्चाई

कोरोना वायरस से चीन में अब तक 3000 से ज्यादा लोगों की जान जा चुकी है. दुनियाभर में करीब एक लाख लोग इसकी चपेट में आ चुके हैं. भारत में भी वायरस को लेकर डर का माहौल है. सरकारी आंकड़ों के मुताबिक, यहां 31 लोग इससे संक्रमित पाए गए हैं.

कोरोना वायरस को लेकर तरह-तरह की अफवाह सोशल मीडिया पर वायरल हो रही है. उनमें से कुछ अफवाहों की हमने पड़ताल की. हमने पाया ये फेक न्यूज हैं. आइए जानते हैं सोशल मीडिया में कोरोना को लेकर कौन-कौन सी फेक न्यूज चल रही हैं.

शराब पीने वालों को कोरोना वायरस नहीं होगा

कहा जा रहा है कि शराब पीने वाले लोगों पर कोरोना वायरस का असर नहीं होता है. इस तरह की खबरें सोशल मीडिया पर खूब चल रही हैं. हमारी टीम ने इन तथ्यों की पड़ताल की. हमने पाया कि इस तरह का कोई सर्कुलर या सलाह भारत सरकार के स्वास्थ्य मंत्रालय या विश्व स्वास्थ्य संगठन की तरफ से नहीं दी गई है.

हमने फैक्ट चेक में पाया कि विश्व स्वास्थ्य संगठन (डब्ल्यूएचओ) ने कोरोना से बचाव को लेकर जारी की गई गाइडलाइंस में अल्कोहल का जिक्र तो किया है, लेकिन कहीं ये नहीं लिखा कि शराब पीने से कोरोना वायरस से बचा जा सकता है. डब्ल्यूएचओ के मुताबिक, अपने हाथों को साबुन और पानी से बार-बार धोएं और गंदा होने पर अल्कोहल बेस्ड हैंडवॉश का इस्तेमाल करें. इससे हाथों में आए वायरस खत्म हो जाते हैं.

कोरोना वायरस की दवा बाजार में आ गई है

सोशल मीडिया में चल रहे मैसेज में कहा गया है कि कोरोना वायरस होम्योपैथिक दवा आर्सेनिक एलबम 30 से नियंत्रित किया जा सकता है. मैसेज में कहा गया है कि होम्योपैथिक इलाज आपको इस वायरस से काफी हद तक बचा सकता है.

इस बारे में हमने पड़ताल की तो पाया कि इस बात का कोई सबूत नहीं है कि यह दवा खाने से कोरोना वायरस का इलाज हो सकता है. इसके लिए हमारी टीम ने गूगल की फैक्ट चेक टीम में शामिल लोगों से इसकी सच्चाई जानने की कोशिश की. वहां भी इस बात की पुष्टि हुई कि यह फेक न्यूज है.

अंडा, चिकन और मछली से होता है कोरोना

अंडा, चिकन और मछली से कोरोना का कोई सीधा संबध नहीं है. इस बारे में हमने भी पड़ताल की तो किसी भी सरकारी या निजी संस्था ने यह दावा नहीं किया है अंडा, मछली या चिकेन खाने से कोरोना वायरस होता है.
इस बारे में केंद्रीय पशुपालन, डेयरी व मत्स्य पालन मंत्री गिरिराज सिंह ने इस तथ्य का खंडन करते हुए 5 मार्च को ट्वीट भी किया है. इसमें कहा गया है कि मछली, अंडे और चिकन से कोरोना वायरस का कोई लेना-देना नहीं है. मछली अंडा और चिकन छोड़ने से आपके शरीर में प्रोटीन की कमी हो सकती है..अतः स्वच्छता का ध्यान रखें और सभी भोजन अच्छी तरह पका कर खाएँ.

चीनी सामानों में छिपा है कोरोना वायरस

यह तेजी से वायरल हो रहा है कि चीनी सामानों में कोरोना वायरस है. भारत सरकार ने होली पर चीन से आए सामान नहीं खरीदने की अपील की है. इसकी पड़ताल पर हमने पाया कि भारत सरकार ने ऐसी कोई एडवाइजरी जारी नहीं की है

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

tahkikatsamachar

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages