प्रधानमंत्री आवास व लाभकारी योजनायें विधवा वृद्ध दिव्यांग को नहीं तो किसे?चन्द्रमणि पाण्डेय - तहक़ीकात समाचार

ब्रेकिंग न्यूज़

Post Top Ad

Responsive Ads Here

शनिवार, 30 नवंबर 2019

प्रधानमंत्री आवास व लाभकारी योजनायें विधवा वृद्ध दिव्यांग को नहीं तो किसे?चन्द्रमणि पाण्डेय


 विकास कार्यों का जमीनी हकीकत दिखाने हेतु कप्तानगंज विधानसभा में पोलखोल अभियान की शुरूवात करते हुए समाजसेवी चन्द्रमणि पाण्डेय सुदामाजी ने मुख्यमंत्री प्रधानमंत्री आवास व अन्य लाभकारी योजनाओं पर बडा सवाल करते हुए पूंछा कि यदि सरकार की जनहितकारी योजनाएं गरीब असहाय विधवा वृद्ध दिव्यांग तक नहीं पहुंच रही है तो फिर योजना का लाभ किसे दिया जा रहा है ,शिक्षकों को प्रेरणा ऐप्स देने वाली सरकार व उसके अधिकारी जनप्रतिनिधि पात्रों तक लाभ पहुंचाने की प्रेरणा कब लेंगें।

 वास्तव में पूंजीपतियों के हाथों की कठपुतली बन चुकी केंद्र व प्रदेश सरकार की हर योजनायें बजट डकारने का माध्यम बन चुकी हैं धन के बंदरबांट की होड में अधिकारियों व जनप्रतिनिधियों की नैतिकता शून्य हो चुकी है फलतः शिक्षा व चिकित्सा ही नहीं चाय व पान की दुकान भी अब पूंजीपतियों को दी जा रही है आम इंसान की दुकान अतिक्रमण व अवैध बताकर हटाई जा रही है श्री पाण्डेय ने आज कप्तानगंज विधानसभा के हाईवे से सटे बढनी गांव के विकास योजनाओं की अनियमितता दिखाते हुए बताया कि उक्त गांव की अत्यंत गरीब लाचार विधवा महिला इंद्रावती यादव जिसके चार बच्चों में दो बडी बेटियां क्रमशः 20, व 17साल की व दो बेटे 14 व 11साल के हैं समय की मार झेल रही महिला का छोटा बेटा मामा के यहां रहकर पढ रहा है तो पढने की उम्र में संसाधन के अभाव में वो दोनों बेटियों व बडे बेटे संग कृषिकार्य व मजदूरी कर किसी तरह जीवन यापन कर रही हैं एक बेटी शादी लायक हो चुकी है किन्तु जिसके पास भोजन व आशियाना ही नहीं वो शहनाई के बारे में कब सोचें ससुर व पति द्वारा बनाया गया खपरैल मकान धराशायी हो चुका है किन्तु आवास तो दूर आपदा राहत व शौचालय तक परिवार के पास नहीं है और हम हैं कि विषमता के इस दौर में रामराज्य का ढिंढोरा पीट रहे हैं ।उन्होने जिले के जिलाधिकारी,सांसद व कप्तानगंज विधायक से अपील किया कि एक व्यापक अभियान चलाकर पात्रों तक योजना पहुंचायें वरन 12दिसम्बर को हम पुनः एक व्यापक लडाई लडने को बाध्य होंगें इस मौके पर श्री पाण्डेय के साथ दर्जनों समर्थक व ग्रामीण मौजूद रहे

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

tahkikatsamachar

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages