फ़ोटो सेशन और अखबार के पन्नों पर जगह बनाने की चाहत कम करें जिम्मेदार ,तब बने बात - तहक़ीकात समाचार

ब्रेकिंग न्यूज़

Post Top Ad

Responsive Ads Here

शनिवार, 31 अगस्त 2019

फ़ोटो सेशन और अखबार के पन्नों पर जगह बनाने की चाहत कम करें जिम्मेदार ,तब बने बात

विश्वपति वर्मा_
हत्या,बलात्कार,छेड़छाड़ ,डकैती, लूटपाट, अपहरण, मारपीट, ठगी, चोरी, साइबर क्राइम जैसी घटनाएं दिन प्रतिदिन बढ़ती जा रही हैं,फरवरी 2017से जुलाई 2019 तक केवल राजधानी लखनऊ के आंकड़े बताते हैं कि जंहा पर मुख्यमंत्री समेत सभी विभागाध्यक्ष रहते हैं वँहा 40 हत्याएं ,छेड़छाड़ व बलात्कार,20 डकैती,29 लूट और अपहरण, 328 चोरी और मारपीट ,45 साइबर क्राइम की घटनाएं हुई हैं ,यह आंकड़ा केवल सरकार के आस पास का और सरकारी है इसके अलावां पूरे देश और प्रदेश की घटनाओं पर नजर दौड़ाएं तो उत्तर प्रदेश में इस तरहं की घटनाओं में 20 से 41 फीसदी तक बढ़ोतरी दर्ज हुई है।

ऐसी स्थिति को देखते हुए एक बड़ा सवाल पैदा होता है कि आखिर इस तरहं के गतिविधियों का सबसे बड़ा कारण क्या है ?आखिर सरकार अपने नागरिकों को कौन सी शिक्षा दे रही है कि लोगों में समता और बंधुता की भावना आने के बजाय लोग एक दूसरे के प्रति और अधिक क्रूर बनते जा रहे हैं .क्या ऐसी स्थितियों से निपटने के लिए सरकार के पास कोई व्यवस्था नही है या फिर सरकार यह सोचकर बैठी हुई है कि इस तरहं की घटनाएं ऐसे ही होते रहेंगे।

हमे लगता है कि सरकार को ऐसा अभियान चलाना चाहिए जिसमें इंसान का इंसान से भाईचारा बढ़े लोगों में सद्भावना आये लोग एक दूसरे से नफरत करना कम करें हिंसा की बात न सोचें .लेकिन यह काम टीवी पर विज्ञापन देकर न किया जाए इसके लिए सरकार को सबसे पहले अपने तानाशाह अधिकारियों को सुधरने की नसीहत देनी चाहिए इसके बाद प्रदेश के समस्त 59163 ग्राम पंचायतों में लगातर 1 महीने तक रात्रि चौपाल लगाकर लोगों को सरकारी योजनाओ समेत उनके दायित्यों और कर्तव्यों के प्रति जागरुक करना चाहिए.लेकिन यह ध्यान रहे यह कार्य केवल फोटो सेशन और अखबार के पन्नों में जगह बनाने के लिए न किया जाए।

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

tahkikatsamachar

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages