मोदी जिंदाबाद" और "जय श्री राम" न बोलने पर 52 वर्षीय ऑटो रिक्शा चालक को बेरहमी से पीटा गया. - तहक़ीकात समाचार

ब्रेकिंग न्यूज़

Post Top Ad

Responsive Ads Here

रविवार, 9 अगस्त 2020

मोदी जिंदाबाद" और "जय श्री राम" न बोलने पर 52 वर्षीय ऑटो रिक्शा चालक को बेरहमी से पीटा गया.

©NDTV
राजस्थान के सीकर में एक 52 वर्षीय ऑटो-रिक्शा चालक को "मोदी जिंदाबाद" और "जय श्री राम" न बोलने पर बेरहमी से पीटा गया. पुलिस ने शनिवार को यह जानकारी दी. पीड़ित ने बताया कि उन पर हमला करने वाले दो लोगों ने उनकी दाढ़ी भी खींची और उन्हें "पाकिस्तान जाने" के लिए कहा. पुलिस ने दोनों हमलावरों को गिरफ्तार कर लिया है. गफ्फार अहमद कच्छवा ने पुलिस से शिकायत की कि आरोपियों ने उनकी कलाई घड़ी और पैसे चुरा लिए. यही नहीं हमलावरों ने उनके दांत तोड़ दिए और एक आंख पर हमला कर दिया जिससे काफी चोट आई ।

एफआईआर के अनुसार, शुक्रवार सुबह करीब 4 बजे पीड़ित पास के एक गांव में यात्रियों को छोड़ने के बाद लौट रहे थे, जब एक कार में सवार दो लोगों ने उन्हें रोका और उनसे तंबाकू मांगा. हालांकि, उन्होंने जो तंबाकू की पेशकश की, उसे हमलावरों ने लेने से इनकार कर दिया और कथित तौर पर "मोदी जिंदाबाद" और "जय श्री राम" कहने के लिए कहा.उनके इनकार करने पर हमलावरों ने उन्हें एक छड़ी से पीटा.

कचावा ने न्यूज एजेंसी एएनआई को बताया, " दो लोग गाड़ी से बाहर आए और मेरी पिटाई शुरू कर दी. उन्होंने मुझे थप्पड़ मारा और मुझे 'मोदी जिंदाबाद' कहने के लिए कहा. उन्होंने मेरी दाढ़ी भी खींची."  सीकर के एक वरिष्ठ पुलिस अधिकारी पुष्पेंद्र सिंह ने समाचार एजेंसी पीटीआई को बताया, "शिकायत दर्ज होने के बाद हमने शुक्रवार को दो लोगों को गिरफ्तार किया. प्रारंभिक जांच से पता चलता है कि आरोपियों ने शराब के नशे में पीड़ित की पिटाई की. आरोपियों की पहचान शंभू दयाल जाट (35) और राजेंद्र जाट (30) के रूप में हुई है. एक अन्य पुलिस अधिकारी ने समाचार एजेंसी एएनआई को बताया, "दोनों आरोपियों को मामला दर्ज करने के छह घंटे के भीतर पकड़ा गया. पीड़ित के साथ आरोपियों की बहस हुई जो कि नशे में थे. आरोपियों ने ड्राइवर से पैसे भी मांगे."

कोई टिप्पणी नहीं:

टिप्पणी पोस्ट करें

tahkikatsamachar

Post Bottom Ad

Responsive Ads Here

Pages